SSD और HDD क्या है

हेल्लो दोस्तों नमस्कार मैं आपका इस नई पोस्ट में स्वागत करता हूं आज हम जानने वाले है की कंप्यूटर में लगने वाले दोनों प्रकार के  इंटर्नल स्टोरेज में क्या फर्क है 

कम्प्यूटर में लगे storage दो प्रकार के होते है 

1.   HDD                   2 .  SSD

दोनों का फुल फॉर्म नीचे दिक्या गया है 

HDD = Hard Disk Drive 

SSD =   Solid State Drive

चलिए दोनों के बारे में बड़ी बरी से जान लेते है 

1. जिन कंप्यूटरों में HDD की स्टोरेज लगी होती है उन सभी कंप्यूटर कि स्पीड SDD से काफी कम होती है  जिन कंप्यूटरों में SDD लगी होती है उनकी स्पीड काफी अच्छी होती है उदहारण के लिए जैसे एक बाइक और साईकिल में अंतर होता है ठीक उसी प्रकार का अंतर होता है 


जरूर पढ़े -: Command की मदद से Windows activate कैसे करे


2. HDD में एक cd lagi होती है जो घूमती रहती है और उस पर आपका डाटा रहता है और उस डाटा को पढ़ने या स्टोर करने का काम उसके ऊपर लगे लेंस का होता है जब आप उसमे रखी किसी भी वीडियो गाने को को play करते है तक वहीं लेन्स उस पर पड़े डाटा को पढ़ने का काम करता है लेकिन SDD में ऐसा कुछ नहीं होता उनका स्टोरेज ढेर सारे चिप के कर में होता है  इसलिए इसकी स्पीड अच्छी आती है 

HDD लगे लैपटॉप अगर कहीं गलती से गिर जाए तो उसमे लगी 

4. CD टूट जाती है और आपका सरा डाटा खत्म हो जाता है और 3% - 4%  चांस ही रहता है कि आपका डाटा सुरक्षित है लेकिन SDD में ऐसा नहीं होता इसके गिरने से 98%। चांस रहता है कि आपका सरा डाटा बचा हुआ ही सिर्फ 2% में कुछ संदेह रहता है कि कहीं डाटा खत्म ना हो गया हो 

ये भी जाने -: अगर आपने विंडोज को अपडेट किया है तो ये काम जरूर करे

5. HDD वाले लैपटॉप अधिक से अधिक पावर  खर्च करते है  क्योंकि उसमे एक cd को घुमाने के लिए ज्यादा पावर की जरूरत होती है SDD HDD के मुकाबले काफी कम पावर खर्च करते हैं 

6. हार्ड डिस्क का जिंदगी करी 5-10 साल की होती हैं बाकी अपने ऊपर निर्भर करता है कि अपने कितना दबा के चलाया है लेकिन वहीं पर SDD की करीब 20-30 साल की जिंदगी होती है बाकी यहां भी वही बात है कि अपने कितना अच्छे से उसको चलाया है 


दोनों के price के बात कर लेते है 1TB की हार्ड डिस्क करीब साढ़े दो से तीन हजार का जाएगी लेकिन वहीं SDDकी बात कर ले तो SDD 1TB करीब दस से पंद्रह हजार की आ जाएगी बाकी उनकी क्वालिटी पर उनका price निर्भर करता है  

दोनों की स्टोरेज लिमिट के बारे में जान लेते है HDD करीब 10TB तक की भी सामान्य रूप से मिल जाती है तो जिन लोगो को ज्यादा स्टोरेज की जरूरत है वो लोग HDD ही ले और SDD करीब 4TB तक की स्टोरेज के साथ मिल सकती है जिन लोगो को ज्यादा स्टोरेज से मतलब नहीं है वो लोग सामान्यता SDD ही के उनकी काफी अच्छी स्पीड मिल जायेंगी 

इतना सुनने के बाद अपने मन तो बना लिया होगा कि अब HDD को अपने लैपटॉप से निकाल कर SDD लगाएंगे लेकिन अगर आप ।महगा की वजह से पीछे हट रहे है तो में आपको एक idea बता देता हूं ताकि आपकी मदद हो सके 

देखिए आप करीब 128GB की SSD ले लीजिए जो करीब एक से दो हजार में मिल जाएगी फिर आप इस SDD में अपना विंडोज इंस्टॉल कर लीजिए और जो एप्लिकेशन है उन्हें भी SDDमें इंस्टॉल कर लीजिए मेरा कहने का मतलब है कि SDD को आप C ड्राइव ही बना दीजिए 

और फिर आप 500 GB या 1TB की HDD ले लीजिए और अपनी सारी विडियोज गाने उसमे रख लीजिए और आप उसे external बना लीजिए जब भी आपका मन गाना या वीडियो देखने या सुनने का मन करे तुरंत हार्ड डिस्क को कनेक्ट करिए और फिर  स्टार्ट कर दीजिए 

1 Comments

Post a Comment

Previous Post Next Post