32  Bit और 64 Bit में क्या अंतर है आइये जाने 


हेलो दोस्तों आज के इस नए पोस्ट में आपका स्वागत है आज के इस पोस्ट में मैं आपको बताऊंगा की 32  Bit और 64 Bit me kya anter hai ?  और केवल अंतर ही नहीं बल्कि ये भी भी बताऊंगा की ये Bit क्या चीज होती है आखिर इसका क्या लॉजिक है साथ ही अगर आप थोड़ा बहुत भी इसके बारे में जानते है तो भी  आप इस पोस्ट को पढ़िए  कुछ  कुछ नया जानने को मिलेगा या फिर आपको इसके बारे में कुछ भी नही पता है तो आप घाबरिये नहीं फिर आपको पूरा समझ आ जायेगा चलिए शुरू करते है



देखिये  ये bit की कहानी कंप्यूटर के प्रोसेसर से शुरू होती है अब आप सोच रहे होंगे की ये गलत है मैंने तो Windows को Bit में सुना है कुछ लोग सोचेंगे की नहीं ये सॉफ्टवेयर होता है Bit में तो आप भी सही है यंहा पर 3 चीजे होती है

1. Proceser
2. Oprating system
3. Application 


अब इनमे से सबसे पहले कंप्यूटर का प्रोसेसर 64 और 32 Bit का आया तो 64 Bit वाले प्रोसेसर के लिए 64 Bit का oprating सिस्टम आया और 64 Bit ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए 64 Bit का एप्लीकेशन आया
फिर 32 Bit Proceser के लिए 32 Bitका oprating system आया और 32 Bit ऑपरेटिंग सिस्टम  लिए 32 Bit का एप्लीकेशन आया
मैं आपको बहुत बेसिक से बता रहा हु  किसके लिए और क्यों  आया है और आप ये भी समझ गए होंगे की 32 Bitऔर 64 Bit का असली कहनी प्रोसेसर से चालू होता है

Bit क्या होता है 


सबसे पहले हम जड़ से जानेंगे की 1 Bit क्या होता है 2 Bit क्या होता है और आगे आप पढ़ते पढ़ते आप समझ जायेंगे की ये होता क्या है अपने कभी न कभी ये जरूर सुना होगा की कंप्यूटर 01 01 की value पर काम करता है ये  01 01 का मतलब ये होता है की हमारे कंप्यूटर में  डाटा  हमारा कंप्यूटर  01 01 के नाम से ही पहचानता है अब ये  01 01 एक घर की तरह  क्योकि जो कुछ ढूढ़ना होता है तो वो इसी लैंग्वेज में ढूढ़ता है या फिर आप अपने कंप्यूटर में हो कुछ भी save करेंगे यो सब  01 01 के वैल्यू में सेव होगा अब आप इस तरह  समझ लीजिये की 1 बिट में एक ही वर्ड होगा या तो वो 0 होगा या फिर 1  होगा  वैसे ही 2 bit में दो वर्ड होंगे तो उसमे 11,10,01 या 00 होगा इसी तरह 3 बिट में भी होगा 8 जोड़े बन जायेंगे और 4 बिट में 16 जोड़े बन जायेंगे
 इसी तरह आगे बढ़ती जाएगी और इसी तरह 32 तक जायेंगे और 32 Bit में करीब 4294967296 bit होती है और इतने में अगर आप 1024 से डिवाइड करेंगे टोल वो KB में  बदल जाएगी  जो 4194304KB होगी और फिर अगर आप इसमें फिर से 1024 से डिवाइड करेंगे तो ये Mb में बदल जाएगी और फिर Mb में 1024 से डिवाइड करने पर ये GB में बदल जाएगी इस तरह ये 4 GB आएगी इसका मतलब जो हमारा प्रोसेसर है वो 4GB से ज्यादा नहीं रख सकता तो सीधा मतलब है की हमारे 32 बिट प्रोसेसर में 4GB RAM से  ज्यादा नहीं लग पाएगी और आज के ज़माने में 4GB RAM कितनी काम है 
आप जानते होंगे कंप्यूटर में कोई Havy सॉफ्टवेयर Game चलने के लिए तो 4GB RAM तो काम ही पड़ जाती है इसलिए और ज्यादा सपोर्ट करना तो 32Bit की बात तो थी नहीं तो आया 64Bit तो इसी के लिए 64 Bit ऑपरेटिंग सिस्टम भी लाना पड़ा ऑपरेटिंग सिस्टम आ गया तो सॉफ्टवेयर भी जाना पड़ा और इसी तरह 64 Bit की colculation करि जाये तो फाइनल नंबर 16 EB यानि Exa Byte आएगी तो आप 64 Bit प्रोसेसर के ऊपर 16 Exa byte का RAM लगा सकते हो ये Exa Byte क्या होता है ये जानिए जैसे 1024 GB का हो गया 1 TB और 1024 TB का हो गया 1PB और फिर 1024 PB का हो गया 1EB यानि Exa Byte  ये आप 64 बिट प्रोसेसर के ऊपर जितनी चाहे RAM लगा सकते है

यदि आप 64 Bit  है तो आपके कंप्यूटर में क्या क्या होनी चाहिए
64 बिट के  लिए आपका हार्डवेयर भी 64 बिट का होना चाहिए हार्डवेयर यानि main प्रोसेसर 64 बिट का होना चाहिए तो अगर 64 बिट का प्रोसेसर आपके पास है
 तो आपको ऑपरेटिंग सिस्टम भी 64 बिट का होना चाहिए अगर ऑपरेटिंग सिस्टम 64bit होगा तो एप्लीकेशन भी 64 बिट का  ही होना चाहिए लेकिन इनतीनो में से कोई एक भी चीज 32 बिट की होगी तो आप 64 बिट का मजा नहीं ले पायेंगे इसलिए तीनो 64 बिट के होने चाहिए तभी कंप्यूटर चलने में मजा आएगा अगर आप 64  बिट वाले प्रोसेसर में 32 बिट का ऑपरेटिंग सिस्टम इस्तेमाल करते है तो आप आपके पास RAM वाली समस्या आ जाती  है और आप अपने कंप्यूटर के RAM का आधा ही प्रयोग कर पाते है

तो आप को समझ आ गया होगा की ये 32 बिट क्या है और और 64 बिट क्या है और इनका काम क्या है और इसमें अंतर क्या है अब आप  decide कर सकते है की आपको कौन सा ऑपरेटिंग सिस्टम का प्रयोग करना चाहिए |


1 Comments

Post a Comment

Previous Post Next Post